सच्ची ख़बर, बेख़ौफ़ अंदाज़...

सच्ची ख़बर, बेख़ौफ़ अंदाज़...

कर्नाटक के कॉलेज से उठे “हिजाब” के मुद्दे पर लुधियाना की मुस्लिम महिलाओं ने “हिजाब” पहनकर निकाला रोष मार्च

Share this post

लुधियाना (ब्यूरो) हिजाब का मुद्दा अब दिन-ब-दिन तूल पकड़ता जा रहा है। कर्नाटका के एक कॉलेज से शुरू हुआ यह विवाद धीरे-धीरे पूरे देश में अब एक अहम मुद्दा बन चुका है। जिसको लेकर पंजाब में भी मुस्लिम महिलाओं द्वारा हज़ारों की तादाद में एकत्रित होकर धरना प्रदर्शन करते हुए रोष मार्च निकाला गया। पंजाब के लुधियाना में हजारों की संख्या में एकत्रित हुई मुस्लिम महिलाओं ने एक रोष मार्च निकालकर अपना विरोध जाहिर किया और कहा कि राजनीतिक पार्टियां इस पर कोई भी सियासत ना करें और पाकिस्तान भी भारत के इस अंदरूनी मसले पर अपना कोई भी हस्तक्षेप ना करें।

कर्नाटक के एक कॉलेज से शुरू हुआ हिजाब का मुद्दा अब पंजाब के लुधियाना की सड़कों पर उतर आया है। आज लुधियाना के फील्ड गंज इलाके में हजारों की तादाद में एकत्रित हुई मुस्लिम महिलाओं ने हिजाब के ऊपर उठे विवाद को लेकर अपना रोष प्रगट करते हुए जबरदस्त धरना प्रदर्शन किया। इस दौरान प्रदर्शनकारी महिलाओं ने कहा के हिजाब उनके धर्म का एक अहम हिस्सा है और वह इस हिजाब को आज से नहीं बल्कि सदियों से पहनती चली आ रही है। लेकिन अब एका-एक अचानक ऐसा क्या हो गया जो हिजाब को लेकर एक नया विवाद खड़ा किया जा रहा है। जबकि यह एक मुस्लिम महिला पर निर्भर करता है कि वह हिजाब पहने या फिर ना पहने। यह किसी दूसरे व्यक्ति या फिर किसी दूसरे धर्म द्वारा निर्धारित नहीं किया जा सकता। उन्होंने कहा हिजाब पहनना उनकी एक धार्मिक संस्कृति है और वह इसे किसी भी कीमत पर नहीं छोड़ सकती। साथ में उन्होंने यह भी कहा के हिजाब को लेकर किसी के भी द्वारा कोई भी पॉलिटिक्स नहीं की जानी चाहिए। क्योंकि वह खुद भी किसी राजनेता या सियासतदान के कहने पर नहीं आई है बल्कि वह इस प्रदर्शन में खुद अपनी मर्ज़ी से शामिल हुई हैं। और इसी के साथ ही उन्होंने पाकिस्तान को चेताया कि वह इस मसले को लेकर अपनी ओर से किसी भी प्रकार की दखलअंदाजी ना करें क्योंकि यह उनके घर का और भारत का मामला है और वह भारत में रहती हैं और यह मसला भारतीय मुस्लिम महिला खुद ही देखेंगी।

उधर दूसरी तरफ इस प्रदर्शन की अगुवाई कर रहे पंजाब के शाही इमाम मौलाना मुहम्मद उस्मान लुधियानवी का कहना था कि हिजाब को लेकर वोटों की राजनीति की जा रही है और हिजाब के इस मुद्दे को जानबूझकर छेड़ा गया है। जबकि इसके पीछे कुछ फिरकापरस्त लोग शामिल है। इस मौके पर उनका कहना था कि कुछ राजनीतिक पार्टियां इसको लेकर अपनी राजनीतिक रोटियां सेक रही है। इसके इलावा उन्होंने यह भी कहा एक विशेष समुदाय को एक सोची समझी साजिश के तहत टारगेट किया जा रहा है।

BHARTI
Author: BHARTI

Related Posts

Advertisement

+43
°
C
+45°
+37°
Delhi (National Capital Territory of India)
Wednesday, 30
Thursday
+44° +35°
Friday
+42° +35°
Saturday
+43° +34°
Sunday
+43° +35°
Monday
+44° +36°
Tuesday
+45° +36°
See 7-Day Forecast

 

Radio Live